Consider God a Member of Your Family

Sneha Sammelan

  • December 8, 2015
  • By:
  • Comments: Comments Off on Sneha Sammelan
  • Posted in: Recent Posts

सुवर्ण महोत्सव स्नेह संमेलन

कृषि महाविद्यालय अकोला (महाराष्ट्र) के 1965 से 1969 बॅचके माजी विद्यार्थीओं का सुवर्ण महोत्सवी स्नेह संमेलन पंजाबराव कृषि विद्यापीठ अकोला मे संपन्न हुआ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राध्यापक श्री.शिवाजी देसाईजी ने की। कार्यक्रम तीन सत्रों में चला। प्रथम सत्र में उपस्थित सभी प्राचार्यो ने मार्गदर्शन किया। उर्वरीत जीवन उत्साह में जीने की प्रेरणा दी। दुसरे सत्र में कुछ गंभीर विषयों पर चर्चा करते हुये, किसानो की समस्याओं पर चिंतन हुआ तथा उनके हित में कुछ नये कार्यक्रम बनाकर उन्हे सुचारु रुप से क्रियान्वित करने का संकल्प लिया। तिसरे सत्र में छात्रों ने अपने कॉलेज जीवन के मजेदार अनुभव सुनाये।

इस बॅच की विशिष्ठता यह थी की, ज्यादातर माजी छात्र होनहार थे। उच्च पदों पर कार्यकर उन्होंने प्रदेश एवं देश की सेवा की। श्री.बबनराव चौधरी माजी विधायक, माजी कृषी संचालक महा. राज्य श्री. जयवंत राव महल्ले, माझी डेप्युटी कमिश्नर (विक्री कर) श्री.काकड जी, माजी संचालक वस्त्रउद्योग महामंडल महा. राज्य श्री.बाबाराव खडसे, माजी सदस्य विधान परिषद श्री.वसंतराव खोटरे, उपसचिव वित्त श्री. खोबरागडे (सभी माजी छात्र ) ने संबोधित किया। श्री. प्रकाश महिंद्रे, श्री.बल्लू गुजर, प्राध्यापक शंकरराव राऊत, श्री. ठाकरे जी एवं प्रगतशील किसान व उद्योगपती श्री.श्याम गट्टानी ने भी अपने विचार रखे।

स्वामी जी प्रसन्न तथा उत्साहित थे, क्योंकी 45 सालों बाद वह अपने सभी मित्रों को मिल रहे थे। कार्यक्रम को यशस्वी करने के लिये श्री.विठ्ठलराव गोळे, श्री.आर.जी. देशमुख व श्याम दुबे, दो महा से अथक प्रयास कर रहे थे।

– श्याम दुबे (माजी छात्र )

photo__4_ photo